रचनात्मक कार्यक्रम

(उसका रहस्य और स्थान)

गांधीजी

 

 

अनुवादक : काशिनाथ त्रिवेदी

नवजीवन ट्रस्ट, 1946

पहली आवृत्ति, 1946    तीसरी परिवर्धित आवृत्ति, 1951

पुनर्मुद्रण, प्रत 5,000 नवम्बर 2004

कुल प्रतियाँ : 77,000

 

 

 

 


 

 

नवजीवन ट्रस्ट द्वारा यह पुस्तक रिआयत दरसे प्रकाशित हुई है।

आई एस बी एन 81-7229-110-8

मुद्रक और प्रकाशक : जितेन्द्र ठाकोरभाई देसाई,

नवजीवन मुद्रणालय, अहमदाबाद-380 014